13-Aug-2007

भाषा कुञ्जीपटल बदलने हेतु बेहतर कुञ्जी

भाषा कुञ्जीपटल बदलने हेतु बेहतर कुञ्जी

Better Language Keyboard toggle key


श्रीश जी ने ईपण्डित पर तकनीकी आलेख हैक - बरहा, कैफे हिन्दी आदि द्वारा एम एस‌ वर्ड में हिन्दी टाइप करना में विण्डोज-एक्सपी के कण्ट्रोल पैनल में की-बोर्ड ले-आऊट जोड़ने की अच्छी तथा उपयोगी तकनीकी जानकारी प्रकाशित की है।

इसमें अपने अनुभव से एक और बेहतर कदम जोड़ने के लिए विवरण यहाँ दिया जा रहा है। यह देखा गया है कि अंग्रेजी तथा हिन्दी भाषा का कुञ्जीपटल बदलने के लिए डिफॉल्ट कुञ्जियों (default toggle-key) Left Alt+Shift का उपयोग करने से निम्नवत् समस्याएँ प्रकट होती है:

1. Left Alt+Shift दोनों कुञ्जियों को एक साथ दबाने से ही Language-Key-board बदलने का आदेश(command) सक्रिय होता है। यदि दोनों के एक साथ दबाने में पल-भर(a moment) भी इधर-उधर हो जाए, तो ये कुञ्जियाँ विण्डोज के अन्य डिफॉल्ट आदेशों को सक्रिय कर देती हैं। जो सबसे होनेवाली स्वाभाविक गलती है। अच्छे अनुभवी टाइपिस्ट से भी यह गलती बारम्बार हो जाती है।

अक्सर Alt कुञ्जी पहले दब जाती है और Shift कुञ्जी बाद में दबती है। एक-साथ नहीं दब पाने से अंग्रेजी से हिन्दी या हिन्दी से अंग्रेजी कुञ्जीपटल बदलने का कार्य सक्रिय नहीं हो पाता। बल्कि Alt कुञ्जी दबते ही चालू विण्डो (current window) का मीनू सक्रिय हो जाता है। इसके एक पल बाद Shift की दबने पर यह कुछ काम नहीं करती।

इसके बाद जिस भी कुञ्जी बटन/अक्षर दबता है, उससे सम्बन्धित मीनू की खिड़की खुल जाती है। उदाहरण के लिए Alt+F .या Alt+f जो भी दब जाए, File menu (dropdown) सक्रिय हो जाता है। Alt+E या Alt+e जो भी दब जाए, Edit menu (dropdown) सक्रिय हो जाता है और हिन्दी के अक्षर टाइप करना शुरू करने पर अन्य आदेश सक्रिय होकर कई प्रकार की गड़बड़ी पैदा कर देते हैं।

अतः इससे एक कदम और आगे जाकर निम्न प्रकार की settings बदलें Advanced Key-settings में Change key sequence पर क्लिक करें।




इसपर एक नई विण्डो खुलेगी, जिसमें Switch input languages के default बटनों पर क्लिक करके Control+Shift को चुनें। तथा Switch keybaord layouts के डिफॉल्ट बटनों पर क्लिक करके Left Alt+Shift को चुनें।



क्योंकि विण्डोज-एक्सपी में यहाँ एक भाषा/लिपि के लिए कई कीबोर्ड लेआउट स्थापित (install) करने की सुविधा है, (जैसा कि ऊपर के चित्र में दो हिन्दी भाषा के लिए दो कुञ्जीपटल इन्स्टॉल दिखाई दे रहे हैं--

(1) Switch to Hindi- Devanagari - INS5(HRP)
और
(2) Swith to Hindi - Hindi Indic IME 1 (V 5.0)

लेकिन एक उपयोक्ता (user) को एक ही भाषा का विकल्प कीबोर्ड लेआउट बदलने की जरूरत शायद ही कभी पड़ती है। जबकि अंग्रेजी और हिन्दी के बीच कुञ्जीपटल को बदलने की जरूरत बारम्बार पड़ती है। इसके लिए Left Alt+shift के बदले Control+Shift दबाना ज्यादा सुविधाजनक, त्रुटिहीन एवं समस्यारहित होता है।

अतः भाषा/लिपि का कुञ्जीपटल बदलने (toggle) करने के लिए Contrl+Shift बटनों का विकल्प ही चुनना और विकल्प की-बोर्ड लेआऊट बदलने के लिए Left Alt+Shift बटनों का विकल्प चुनना कहीं अधिक सुविधाजनक होगा।

3 comments:

Sagar Chand Nahar said...

चलिये ये भी अच्छा सुझाव है, मैने तो ctrl+ shift वाला सैट कर दिया है। देखते हैं कौनसा सुविधाननक रहेगा, पर एक बात है आज बहुत बड़ी समस्या का समाधान हो गया, आपका और श्रीश का धन्यवाद ।

Shrish said...

वाह हरिराम जी बहुत ही उपयोगी बात बताई। मैं किन शब्दों में आपका धन्यवाद करूँ।

मैं लंबे समय से ALT+SHIFT की इस समस्या से परेशान था। सिर्फ इसी वजह से मैं लंबे समय तक इनस्क्रिप्ट शुरु करना टालता रहा क्योंकि हमें बरहा में F12 द्वारा सिंगल क्लिक से भाषा बदलने की आदत थी। इसके अतिरक्त मुझे HTML, Wiki आदि में काफी काम करना होता है जिस वजह से मुझे बार-बार भाषा बदलनी पड़ती है। इसलिए विकल्प के तौर पर मैंने Cafe Hindi टूल का प्रयोग शुरु किया, परंतु उसमें अभी काफी बग्स हैं।

इसके अतिरिक्त मेरी एक अन्य समस्या है कि Indic IME भाषा स्विच करने में काफी वक्त लेता है, खासकर EN से HI में बदलते वक्त, जिस वजह से मैं XP के डिफॉल्ट कीबोर्ड का प्रयोग करता हूँ। लेकिन कुछ जगहों पर यह काम नहीं करता जैसे कि Yahoo Messenger, Skype आदि। इस कारण से मैं Default InScript Keyboard तथा Indic IME दोनों को प्रयोग करता हूँ। अब समस्या ये है कि मैंने इनके लिए Hot Key निर्धारित कर रखी थी ALT+SHIFT+1, ALT+SHIFT+2 परंतु कोई सी भी Hot Key दबाने पर चलता Indic IME ही था।

अब मैंने आपके निर्देशानुसार इनपुट भाषा बदलने के लिए CTRL+SHIFT तथा कीबोर्ड बदलने के लिए ALT+SHIFT सैट कर दिया है। अब जब CTRL+SHIFT दबाता हूँ तो Default InScript ही आता है तथा जब जरुरत हो तो ALT+SHIFT दबाकर Indic IME आ जाता है।

एक बार आपका फिर से धन्यवाद, इसीलिए कहते हैं - Experience Counts.

अजित वडनेरकर said...

शुक्रिया हरिरामजी,
इस तरीके से मेरी भी समस्या दूर हो गई। टॉगल करने से प्रवाह रुकता था। दफ्तर के कम्प्यूटर पर तो सैटिंग बदल दी है, अब घर के लैपटॉप पर देखना है, कोई दिक्कत न आए।